तूफानी कहो या आतिशी, वनडे क्रिकेट की 6 बेस्ट पारियां

Best Innings in ODI Ever

वनडे क्रिकेट में कई बार ऐसे मौके आते हैं जब एक बल्लेबाज अपनी टीम को मुश्किल परिस्थितयो से बाहर निकालता है और एक ऐतिहासिक पारी खेलता है। ऐसी पारियां न सिर्फ खेल का रुख बदलती हैं बल्कि दर्शकों को भी झूमने को मजबूर कर देती हैं।

वनडे क्रिकेट में कुछ महान खिलाडियों द्वारा कुछ ऐसी ही महान पारिया खेली गयी जिन्होंने क्रिकेट इतिहास में अपनी अलग पहचान बनाई। आइये जानते है कुछ ऐसी ही पारियों के बारें में विस्तार से।

वनडे क्रिकेट की शानदार पारियां

बल्लेबाजसालरनगेंदचौकेछक्केस्ट्राइक रेट
सर विवियन रिचर्ड्स1984189*170215111.17
कपिल देव1983175*138166126.81
हर्शल गिब्स2006175111217157.65
सचिन तेंदुलकर2010200*147253136.05
रोहित शर्मा2014264173339152.60
ग्लेन मैक्सवेल2023201*128 2110157.03
All-time Best Innings of ODI
  1. सर विवियन रिचर्ड्स – 189* रन

सर विवियन रिचर्ड्स वेस्टइंडीज के सबसे बड़े बल्लेबाजों में से एक थे। उन्होंने अपनी करियर की सबसे बेहतरीन पारी 1984 में इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में खेली थी। उनके अर्धशतक के समय वेस्टइंडीज ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 63 रन पर 4 विकेट खो दिए थे। उसके बाद सर विवियन रिचर्ड्स ने अकेले ही इंग्लैंड के गेंदबाजों को धोया। उन्होंने आतिशी अंदाज़ में 170 गेंदों में 21 चौके और 5 छक्कों की मदद से 189 रन की नाबाद पारी खेली। इस मैच में वेस्टइंडीज ने 272 रन का स्कोर खड़ा किया और इंग्लैंड को केवल 168 रन पर ही समेट दिया। वेस्टइंडीज ने यह मैच 104 रन से जीता था।

  1. कपिल देव – 175* रन

भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव इस लिस्ट में शामिल है। 1983 के विश्व कप में जिम्बाब्वे के खिलाफ उन्होंने अपनी करियर की सबसे यादगार पारी खेली थी। भारत को पहले बल्लेबाजी करते हुए 17 रन पर 5 विकेट गिर गए थे। उसके बाद कपिल देव ने अकेले ही जिम्बाब्वे के गेंदबाजों के छक्के छुड़ा दिए। उन्होंने 138 गेंदों में 16 चौके और 6 छक्कों की मदद से 175 रन की अद्भुत पारी खेली। उनकी पारी की वजह से भारत ने 266/8 का स्कोर बनाया था। इस मैच में जिम्बाब्वे 235 रन पर ही जोड़ पाई और भारत से 31 रन से मैच हार गयी।

  1. हर्शल गिब्स – 175 रन

हर्शल गिब्स दक्षिण अफ्रीका के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में से एक थे। उन्होंने अपनी करियर की सबसे रोमांचक पारी 2006 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जोहान्सबर्ग में खेली थी। यह मैच वनडे क्रिकेट का सबसे हाई स्कोरिंग मैच था। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 434 रन बनाए थे जिसमें कप्तान रिक्की पोंटिंग ने 164 रनों का योगदान दिया था।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका के लिए हर्शल गिब्स ने जबरदस्त बल्लेबाजी कर अपनी टीम को जीत पहुचाया। उन्होंने 111 गेंदों में 21 चौके और 7 छक्कों की मदद से 175 रनों की अद्वितीय पारी खेली। इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने एक बल शेष रहते हुए 438 रन बना जीत हासिल की और वनडे क्रिकेट के इतिहास में सबसे अधिक रन बनाने वाली टीम बन गई।

  1. सचिन तेंदुलकर – 200* रन

क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने 2010 में साऊथ अफ्रीका के खिलाफ ग्वालियर में खेले गए मैच में वनडे क्रिकेट(मेल) के इतिहास में दोहरा शतक लगाने वाले पहले खिलाडी बने। उन्होंने 147 गेंदों में 25 चौके और 3 छक्कों की मदद से 200 रन की जबरदस्त पारी खेली। उनकी पारी की वजह से भारत ने साऊथ अफ्रीका को 401 रन का लक्ष्य दिया, वही साऊथ अफ्रीका 248 रन ढेर हो गयी थी। इस मैच में एबी डी विलियर्स ने भी लक्ष्य का पीछा करते हुए 114 रनों की नाबाद पारी खेली लेकिन साऊथ अफ्रीका को हार से नहीं बचा सके। भारत ने इस मैच को 153 रन से जीता।

  1. रोहित शर्मा – 264 रन

रोहित शर्मा ने 2014 में श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता में खेले गए मैच में वनडे क्रिकेट के इतिहास में सबसे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड बनाया। 173 गेंदों पर 33 चौके और 9 छक्के जड़ते हुए रोहित शर्मा ने 264 रन की अविस्मरणीय पारी खेली। 404 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका ने भारत के सामने 251 रन पर ही अपने घुटने टेक दिए। भारत ने इस मैच में 153 रन से जीत हासिल की।

  1. ग्लेन मैक्सवेल – 201 रन

ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने अपनी करियर की सबसे अनोखी या कहेंगे करिश्माई पारी मंगलवार को विश्व कप 2023 के लीग मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ खेली।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया के 91 रन पर 7 विकेट गिर गए थे। उसके बाद ग्लेन मैक्सवेल ने पैट कमिंस के साथ मिलकर अपनी टीम को जीत दिलाने के इरादे से स्कोर को एक अलग ही अंदाज़ में आगे बढाया। उन्होंने 128 गेंदों में 21 चौके और 10 छक्कों की मदद से नाबाद 201 रनो की तूफानी पारी खेली।

इस पारी के दौरान उन्हें तीन बार जीवनदान मिला वही पैर में चोट भी आई लेकिन वो अपने लक्ष्य से नहीं डगमगाए और वनडे क्रिकेट इतिहास में लक्ष्य का पीछा करते हुए पहला दोहरा शतक बना दिए। मैक्सवेल ऑस्ट्रेलिया के लिए वनडे में दोहरा शतक जड़ने वाले पहले खिलाड़ी हैं। इस मैच मैं ऑस्ट्रेलिया ने 3 विकेट से जीत दर्ज की।

वनडे क्रिकेट के इतिहास में ये 6 पारियां सबसे यादगार हैं। इन पारियों ने न सिर्फ मैच का रुख बदला, बल्कि दर्शकों को भी रोमांचित किया।

Recommended Topics